Lost Password?   -   Register

 
Thread Rating:
  • 0 Vote(s) - 0 Average
  • 1
  • 2
  • 3
  • 4
  • 5
राजस्थान की छतरियां
Author Message
Yash Mahala Offline
Administrator
*

Posts: 220
Joined: Jul 2016
Reputation: 1
Post: #1
राजस्थान की छतरियां
राजस्थान की छतरियां 
(1) गैटोर की छतरियां
यह छतरी नाहरगढ़ (जयपुर) में स्थित है।
ये कछवाहा शासको की छतरियां है  यहां पर जयसिंह द्वितीय से मानसिंह द्वितीय की छतरियां है।
(2) बड़ा बाग की छतरियां
यह छतरी जैसलमेर में स्थित है।
यहां पर भाटी शासकों की छतरियां स्थित है।
(3) क्षारबाग की छतरियां
यह छतरी कोटा में स्थित है।
यहां पर हाड़ा शासकों की छतरियां स्थित है।
(4) देवकुण्ड की छतरियां
यह छतरी  रिड़मलसर (बीकानेर) में स्थित है। यहां पर रावबीकाजी व रायसिंह की छतरियां प्रसिद्ध है।
(5) छात्र विलास की छतरी
 यह  कोटा में स्थित है।
(6) केसर बाग की छतरी
 यह छतरी बूंदी में स्थित है।
(7) जसवंत थड़ा
 यह छतरी जोधपुर में स्थित है।
 यहां पर सरदार सिंह द्वारा निर्मित है।
(8) रैदास की छतरी
 यह  छतरी  चित्तौड़गढ में स्थित है।
(9) गोपाल सिंह यादव की छतरी
  यह छतरी  करौली में स्थित है।
(10) 08 खम्भों की छतरी
  यह  छतरी बांडोली (उदयपुर) में स्थित है।
  यह वीर शिरोमणिमहाराणा प्रताप की छतरी है।
(11) 32 खम्भो की छातरी
  यह छतरी  राजस्थान में दो स्थानों पर 32-32 खम्भों की               छतरियां है।
मांडल गढ (भीलवाड़ा) में स्थित 32 खम्भों की छतरी का    संबंध जगन्नाथ कच्छवाहा से है।
रणथम्भौर (सवाई माधोपुर) में स्थित 32 खम्भों की छतरी  हम्मीर देव चौहान की छतरी है।
(12) 80 खम्भों की छतरी
यह छतरी अलवर में स्थित हैं यह छतरी मूसी महारानी से  संबंधित है।
(13) 84 खम्भों की छतरी
यह   बूंदी में स्थित है।
यह छतरी राजा अनिरूद के माता देव की छतरी है।
यह छतरी भगवान शिव को समर्पित है।
(14) 16 खम्भों की छतरी
यह  छतरी नागौर में स्थित हैं
यह अमर सिंह की छतरी है। ये राठौड वंशीय थे।
(15) टंहला की छतरीयां
यह छतरी अलवर में स्थित हैं।
(16) आहड़ की छतरियां
यह   छतरी उदयपुर में स्थित हैं
इन्हे महासतियां भी कहते है।
(16) राजा बख्तावर सिंह की छतरी
यह  अलवर में स्थित है।
(17) राजा जोधसिंह की छतरी
यह छतरी  बदनौर (भीलवाडा) में स्थित है।
(18) मानसिंह प्रथम की छतरी
यह छतरी आमेर (जयपुर) में स्थित है।
(19) 06 खम्भों की छतरी
यह छतरी  लालसौट (दौसा) में स्थित है।
(20) गोराधाय की
यह छतरी जोधपुर में स्थित हैं।
अजीत सिंह की धाय मां की छतरी है।


राजस्थान की अन्य ऐतिहासिक छतरियाँ
एक खंभे की छतरी:-रणथंभौर (सवाई माधोपुर

अमरसिंह की छतरी -यह छतरी नागौर में स्थित है।
सिसोदिया राणाओं की छतरियाँ-  यह छतरी आहड़ ,उदयपुर में स्थित है।
राव बीका जी रायसिंह की छतरियाँ -यह छतरी  देव कुंड बीकानेर में स्थित है।
हाड़ा राजाओं की छतरियाँ – सारबाग , यह छतरी कोटा में स्थित है।
रैदास की छतरी – यह छतरी चित्तौड़गढ़ में स्थित है।
केसर बाग व क्षार बाग की छतरियाँ -यह छतरी  बूँदी ( बूँदी राजवंश की ) में स्थित है।
भाटी राजाओं की छतरियाँ -यह छतरी  बड़ा बाग , जैसलमेर में स्थित है।
राठौड़ राजाओं की छतरियाँ – यह छतरी मंडोर जोधपुर में स्थित है।
मूसी महारानी की छतरी – यह छतरी अलवर में स्थित है।
महाराणा प्रताप की छतरी ( 8 खंभो की )-  यह छतरी बाडोली (उदयपुर ) में स्थित है।
कच्छवाहा राजाओं की छतरियाँ -यह छतरी गेटोर ( नाहरगढ़ ,जयपुर ) में स्थित है।
राव जोधसिंह की छतरी - यह छतरी  बदनौर में स्थित है।
07-25-2018 07:22 PM
WWW Find Posts Quote


Possibly Related Threads...
Thread: Author Replies: Views: Last Post
  राजस्थानी चित्रकला (Rajasthani Paintings) Yash Mahala 0 925 05-24-2018 12:58 PM
Last Post: Yash Mahala
  राजस्थान कला और संस्कृति के सभी नोट्स की इंडेक्स (सारणी) Yash Mahala 0 966 05-16-2018 01:06 PM
Last Post: Yash Mahala
  भारत की प्रमुख संगीत गायन शैलियां Team SMART 0 3,486 12-24-2017 09:38 PM
Last Post: Team SMART
  राजस्थान में लोक देवता Team SMART 0 4,883 12-22-2017 03:07 PM
Last Post: Team SMART
  आभूषण & वेश भूषा पार्ट - 2 Team SMART 0 2,633 12-21-2017 06:45 PM
Last Post: Team SMART

Forum Jump:


User(s) browsing this thread: 1 Guest(s)

Contact Us | SMART | Return to Top | Return to Content | Mobile Version | RSS Syndication
Powered By MyBB, © 2002-2019 MyBB Group.
Designed by © Dynaxel